कपूर खानदान की परेशानियां खत्म होने का नाम ही नहीं ले रही हैं। सात महीने में दो सदस्यों की मौत के गम से परिवार अभी उबरा भी नहीं है कि अब प्रवर्तन निदेशालय ने शिकंजा कस लिया है। रिपोर्ट के अनुसार प्रवर्तन निदेशालय ने अरमान जैन को मनी लॉन्ड्रिंग मामले में तलब किया है।

 

अरमान रणबीर कपूर के फुफेरे भाई यानी ऋषि कपूर, रणधीर कपूर और राजीव कपूर की बहन रीमा जैन के बेटे हैं। ईडी ने मंगलवार को उनके मामा राजीव कपूर के निधन के कुछ घंटे पहले ही अरमान के मुंबई स्थित आवास पर छापा मारा था। जांच के दौरान ईडी को निजी फर्म से जुड़े कथित मनी लॉन्ड्रिंग के एक मामले में अरमान जैन के लिंक के कुछ सबूत मिले थे।

रिपोर्ट के मुताबिक ईडी ने कुछ घंटों तक घर में तलाशी ली थी और छापा खत्म होने के बाद अरमान जैन को अपने मामा (राजीव कपूर) के अंतिम संस्कार के लिए जाने की अनुमति दी थी। बता दें कि इस मामले में शिवसेना विधायक प्रताप सरनाईक को भी ईडी ने तलब किया था।

बाद में, उनके दोनों बेटों – पुरवेश सरनाईक और विहंग सरनाईक को भी पूछताछ के लिए बुलाया गया था। जानकारी के अनुसार ईडी को निजी फर्म, टॉप सिक्योरिटी ग्रुप और सरनाईक के बीच संदिग्ध लेनदेन के कुछ सबूत मिले थे।